Sunday 16/ 06/ 2024 

Dainik Live News24
जमुई: हीट बेब ने ले ली युवा इंजीनियर विकास की जानदावथ थाना परिसर में हुई शांति समिति की बैठकबकरीद को लेकर हुई थाना में शांति समिति की बैठक आयोजितभाजपा कार्यकर्ता का समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन, कई मुद्दों पर हुआ विचार विमर्श….नौ दिवसीय श्रीमद देवी भागवत कथा ज्ञान महायज्ञ का शुभारंभअल्लाह के प्रति बन्दे का सम्पूर्ण समर्पण है ईद-उल-अज़हाहॉकी का पहला सेमीफाइनल मैच काफी रहा रोमांचक…उत्कृष्ट कार्य करने पर स्वास्थ्य मंत्री ने डॉ रवि रंजन को किया सम्मानितऑपरेशन मुस्कान के तहत जमुई एस पी ने लौटाई कई लोगों की मुस्कान, बिहार पुलिस की अनूठी पहल व उपलब्धिगंगा दशहरा पर “जोहार स्वर्ण रेखा, नमामि स्वर्णरेखा” के तहत स्वर्णरेखा नदी के लिए दौड़ और गंगा आरती का आयोजन
उत्‍तर प्रदेशटॉप न्यूज़देशभाषाराज्य

क्रिकेट खेलने के दौरान लगी चोट, गंभीर हालत में अस्पताल में तोड़ा दम

सोमवार की शाम अचानक किशोर के सीने में दर्द होने लगा। इस दौरान परिजन समीप के अस्पताल में लेकर पहुंचे। जहां डाक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद वाराणसी रेफर कर दिया।

धीना थाना क्षेत्र के इनायतपुर की घटना

शनिवार को क्रिकेट खेलते समय हुआ था घायल

वाराणसी के अस्पताल में चल रहा था इलाज

मंगलवार को हो गयी अर्जुन की मौत

चंदौली जिले के धीना थाना क्षेत्र के इनायतपुर गांव निवासी खुशियाल राजभर का 16 वर्षीय अर्जुन राजभर बीते दिनों क्रिकेट खेलने के दौरान गंभीर रुप से घायल हो गया था। किशोर का वाराणसी स्थित निजी अस्पताल में उपचार चल रहा था। वही मंगलवार को सुबह उपचार के दौरान मौत हो गई। घटना के बाद परिजनों में मातम छाया हुआ है।

आपको बता दें कि  इनायतपुर गांव निवासी खुशियाल राजभर का 16 वर्षीय छोटा पुत्र अर्जुन राजभर कमालपुर इंटर कालेज में हाईस्कूल का छात्र था। वह बीते शनिवार को गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय में साथियों के साथ क्रिकेट खेल रहा था। इसी दौरान रन लेने के चक्कर में सामने वाले खिलाड़ी से टकरा गया। इससे उसके सीने में चोट लग गई, लेकिन परिजनों को नहीं बताया।

बताते चलें कि सोमवार की शाम अचानक किशोर के सीने में दर्द होने लगा। इस दौरान परिजन समीप के अस्पताल में लेकर पहुंचे। जहां डाक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद वाराणसी रेफर कर दिया। मंगलवार की सुबह उपचार के दौरान किशोर की मौत हो गई। घटना के बाद मृतक के पिता खुशियाल राजभर, मो कुंती देवी व भाई परदेशी का रो रोकर बुरा हाल रहा।

चंदौली ब्यूरो चीफ – नितेश सिंह यादवकी रिपोर्ट

Check Also
Close