Sunday 16/ 06/ 2024 

Dainik Live News24
जमुई: हीट बेब ने ले ली युवा इंजीनियर विकास की जानदावथ थाना परिसर में हुई शांति समिति की बैठकबकरीद को लेकर हुई थाना में शांति समिति की बैठक आयोजितभाजपा कार्यकर्ता का समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन, कई मुद्दों पर हुआ विचार विमर्श….नौ दिवसीय श्रीमद देवी भागवत कथा ज्ञान महायज्ञ का शुभारंभअल्लाह के प्रति बन्दे का सम्पूर्ण समर्पण है ईद-उल-अज़हाहॉकी का पहला सेमीफाइनल मैच काफी रहा रोमांचक…उत्कृष्ट कार्य करने पर स्वास्थ्य मंत्री ने डॉ रवि रंजन को किया सम्मानितऑपरेशन मुस्कान के तहत जमुई एस पी ने लौटाई कई लोगों की मुस्कान, बिहार पुलिस की अनूठी पहल व उपलब्धिगंगा दशहरा पर “जोहार स्वर्ण रेखा, नमामि स्वर्णरेखा” के तहत स्वर्णरेखा नदी के लिए दौड़ और गंगा आरती का आयोजन
उत्‍तर प्रदेशटॉप न्यूज़देशभाषाराज्य

सब्जियों की खेती करने वाले लोगों के लिए खुशखबरी, उद्यान विभाग कराएगा 50 हेक्टेयर में सब्जियों की खेती

योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को सब्जियों की खेती के जरिए आय में वृद्धि करना है। कृषि प्रधान जनपद में आमतौर पर किसान धान व गेहूं की ही खेती करते आ रहे हैं।

किसानों को निशुल्क दिया जा रहा लौकी, करेला का बीज

योजना का मुख्य उद्देश्य सब्जियों की खेती के जरिए आय में वृद्धि

चंदौली जिले में उद्यान विभाग की ओर से राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत जायद सीजन में 50 हेक्टेयर में सब्जियों की खेती कराई जा रही है। इसके लिए किसानों को निशुल्क लौकी, करेला, खीरा व तोरई का बीज दिया गया है, ताकि खेती से किसानों की आय में वृद्धि के साथ ही उनकी आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ हो सके।

आपको बता दें कि योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को सब्जियों की खेती के जरिए आय में वृद्धि करना है। कृषि प्रधान जनपद में आमतौर पर किसान धान व गेहूं की ही खेती करते आ रहे हैं। ऐसे में उद्यान विभाग की ओर से राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत जायद की खेती के तहत सब्जियों की खेती को बढ़ावा दिया जा रहा है।

बताते चलें कि इसके लिए शासन की और से 50 हेक्टेयर का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसमें 10 हेक्टेयर में करेला, 17 हेक्टेयर में लौकी व 10 हेक्टेयर में खीरा व 13 हेक्टेयर में तोरई की खेती कराई जा रही है।

इस संबंध में उद्यान निरीक्षक अनुराग सिंह ने बताया कि जायद की खेती में 50 हेक्टेयर क्षेत्रफल में सब्जियों की खेती का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। ताकि चंदौली जिले में सब्जी की खेती को और अधिक प्रोत्साहित किया जा सके। साथ ही साथ किसानों को आय बढ़ाने के लिए प्रेरित किया जा सके।

 

चंदौली ब्यूरो चीफ –  नितेश सिंह यादव की रिपोर्ट

Check Also
Close