Sunday 16/ 06/ 2024 

Dainik Live News24
जमुई: हीट बेब ने ले ली युवा इंजीनियर विकास की जानदावथ थाना परिसर में हुई शांति समिति की बैठकबकरीद को लेकर हुई थाना में शांति समिति की बैठक आयोजितभाजपा कार्यकर्ता का समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन, कई मुद्दों पर हुआ विचार विमर्श….नौ दिवसीय श्रीमद देवी भागवत कथा ज्ञान महायज्ञ का शुभारंभअल्लाह के प्रति बन्दे का सम्पूर्ण समर्पण है ईद-उल-अज़हाहॉकी का पहला सेमीफाइनल मैच काफी रहा रोमांचक…उत्कृष्ट कार्य करने पर स्वास्थ्य मंत्री ने डॉ रवि रंजन को किया सम्मानितऑपरेशन मुस्कान के तहत जमुई एस पी ने लौटाई कई लोगों की मुस्कान, बिहार पुलिस की अनूठी पहल व उपलब्धिगंगा दशहरा पर “जोहार स्वर्ण रेखा, नमामि स्वर्णरेखा” के तहत स्वर्णरेखा नदी के लिए दौड़ और गंगा आरती का आयोजन
Crime Newsउत्‍तर प्रदेशटॉप न्यूज़देशभाषाराज्य

बेटा पुलिस केस में फंस गया है, छुड़ाना है तो 50 हजार भेज दो, नकली पुलिस वाले की हरकत​​​​​​​

नौगढ़ क्षेत्र में एक घटना संज्ञान में आयी है, जिसमें डरा धमकाकर ठगी की गयी है। ठगी करने वाले ने कहा कि आपका बेटा पुलिस केस में फंस गया है। उसे छुड़ाना है तो 50 हजार रुपए तुरंत ऑनलाइन कर दीजिए।

व्हाट्सएप पर लगा रखी है पुलिस की डीपी

ऐसे हो रही ऑनलाइन ठगी

 ताजा है नौगढ़ के बाघी गांव की घटना

चंदौली जिले के नौगढ़ क्षेत्र में एक घटना संज्ञान में आयी है, जिसमें डरा धमकाकर ठगी की गयी है। ठगी करने वाले ने कहा कि आपका बेटा पुलिस केस में फंस गया है। उसे छुड़ाना है तो 50 हजार रुपए तुरंत ऑनलाइन कर दीजिए। ऐसा नहीं किया तो पिटाई तो होगी ही, जेल भी  जाएगी।

मामले में बताया जा रहा है कि सोमवार को कस्बा नौगढ़ में एक महिला के पास अज्ञात नंबर से फोन कर यह सूचना दी गई तो उनके होश उड़ गए। बताया जाता रहा है कि ग्राम पंचायत बाघी निवासी अजीज अली की पत्नी के मोबाइल पर सोमवार को दोपहर एक अज्ञात नंबर से कॉल आई। कॉल करने वाले ने खुद को थाने का एसएचओ बताया। कहा की उनका बेटा एक शर्मनाक हरकत करते हुए पकड़ा गया है और उसे थाने में रखा गया है। उसे पिटाई और जेल जाने से बचाना है तो 50 हजार देने होंगे।

बेटे को थाने में बंद होने की सूचना मिलने पर महिला घबरा गई। इसके बाद रोते बिलखते हुए कहा कि मेरे पास इतने पैसे नहीं है। उसने कहा कि  20 हजार भेजो, तुम्हारे लड़के को तुरंत छोड़ देंगे। इसके बाद 9627345193 नंबर से व्हाट्सएप पर मैसेज भेजने के साथ ही दो बार कोड भेज दिया। जिसमें एक बार कोड पर जय सिंह और दूसरे पर अभिषेक मीना लिखा हुआ था। महिला बिना किसी को बताए अपने पति अजीज अली के साथ एक ग्राहक सेवा केंद्र पर जाकर दोनों बार कोड पर 20 हजार भेज दिया। इसके बाद अजीज अली ने  कई बार फोन और व्हाट्सएप कॉल भी किया, लेकिन मोबाइल स्विच ऑफ बताने लगा।

डीपी में लगा था पुलिस का लोगो 

जिस नंबर से महिला के पास कॉल आया, इसकी डीपी में पुलिस का लोगो लगा हुआ था। खास बात यह है की कालर ने खुद को एसएचओ बताया। साथ ही लोगों को खौफ दिखाकर पैसे ऐंठने की कोशिशें जारी है।

सीओ नौगढ़ बोले

इस सम्बन्ध में पुलिस क्षेत्राधिकारी कृष्ण मुरारी शर्मा ने बताया कि लोगों को लगातार जागरूक किया जा रहा है, लेकिन लोग बिना सोचे समझे ऑनलाइन भुगतान कर ठगी का शिकार हो रहे हैं। लोगों को चाहिए कि ऐसी किसी भी कॉल पर भरोसा ना करें। ऐसे मामलों में साइबर अपराधी आपकी घबराहट, डर का फायदा उठाते हैं। इन बातों का ध्यान रखा जाए तो काफी हद तक साइबर अपराध का शिकार होने से बचा जा सकता है।

 

चन्दौली ब्यूरो चीफ – नितेश सिंह यादव की रिपोर्ट

Check Also
Close