Monday 26/ 02/ 2024 

Dainik Live News24
ऑल इंडिया चंद्रवंशी युवा एसोसिएशन ने किया प्रखंड का विस्तार:- प्रताप सक्सेना चंद्रवंशीराष्ट्र गौरव सम्मान- 2024 से विभूषित हुए साहित्यकार डॉ. अभिषेक कुमारअरवल जिला में महिला कार्यकर्ताओं को संगठित करना हमारा एकमात्र लक्ष्य: मुन्नी चंद्रवंशीबड़ी खबर कैमूर में भीषण सड़क हादसा 7 लोगों की मौत, पुलिस मामले की कर रही जांचतेलपा पुलिस के नाक के नीचे चल रही थी मिनी गन फैक्ट्री, स्थानीय पुलिस फेल, एसटीएफ को मिली सफलताजहानाबाद लोकसभा क्षेत्र में हो रहा है रेल सुविधाओं का विस्तार सड़क हादसे में एक व्यक्ति की मौतरामपुर चौकी इंचार्ज चकिया मुरारपुर से बबुरी थाना के आसपास एक्सीडेंट गाड़ी चालक को फिल्मी स्टाइल में 15 किलोमीटर दूरी पर दौड़ा कर पकड़ानेहरू युवा केंद्र द्वारा चलाया गया मतदाता जागरूकता अभियाननेहरू युवा केंद्र द्वारा दो दिवसीय प्रखंड स्तरीय खेलकूद का किया गया आयोजन 
मनोरंजन

ऋषि सिंह: मंदिर-गुरुद्वारे में भजन से इंडियन आइडल विजेता तक का सफ़र

अयोध्या के ऋषि सिंह ने इंडियन आइडल-13 का ख़िताब जीत लिया है.

मशहूर सिंगिंग रियलिटी शो इंडियन आइडल के 13वें सीजन का फ़ाइनल रविवार को मुंबई में हुआ.

शो के जज हिमेश रेशमिया, विशाल ददलानी और नेहा कक्कड़ थे. शो में भारत के कई राज्यों से फ़ाइनल में 6 प्रतियोगी ही जगह बना पाए थे. इनमें ऋषि सिंह (अयोध्या), बिदिप्ता चक्रवर्ती (कोलकाता), चिराग कोतवाल (जम्मू), सोनाक्षी कर (कोलकाता), शिवम सिंह (वडोदरा) और देबोस्मिता रॉय (कोलकाता) शामिल थे.

घमासान संगीतमय स्पर्धा के बाद अयोध्या के ऋषि सिंह ने इंडियन आइडल-13 का ख़िताब जीतकर ट्रॉफ़ी अपने नाम कर ली.

प्रतियोगी देबोस्मिता रॉय और चिराग कोतवाल पहले और दूसरे रनर अप रहे.

इंडियन आइडल के विजेता बने ऋषि सिंह को सोनी टीवी की तरफ़ से इनाम में 25 लाख रुपये का चेक मिला. साथ ही एक नई गाड़ी भी तोहफ़े में मिली.

पहले (देबोस्मिता रॉय) और दूसरे रनर अप (चिराग कोतवाल) को पांच लाख और तीन लाख रुपये का चेक मिला. वहीं बाकी प्रतियोगियों को एक-एक लाख का चेक दिया गया.

ऋषि सिंह अपनी मां के साथ

इमेज स्रोत,SETINDIA

इमेज कैप्शन,ऋषि सिंह अपनी मां के साथ

कौन हैं ऋषि सिंह?

2 जुलाई 2003 को उत्तर प्रदेश के अयोध्या में जन्मे 19 वर्षीय ऋषि सिंह ने प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल की पढ़ाई द कैंब्रियन स्कूल से पूरी की.

वो देहरादून से एविएशन मैनेजमेंट में अपना ग्रेजुएशन कर रहे हैं. ये उनका तीसरा साल है.

मध्यम वर्गीय परिवार से आने वाले ऋषि के पिता राजेंद्र सिंह सरकारी कर्मचारी हैं और माता अंजलि सिंह गृहिणी हैं. शो के दौरान एक एपिसोड में ऋषि ने बताया था कि वो अपने माता पिता की इकलौती संतान हैं और उन्हें बचपन में गोद लिया गया था.

ऋषि सिंह का कहना है कि उनके माता पिता उनके संगीत के करियर से ख़ुश नहीं थे और वो चाहते थे कि ऋषि पढ़ाई के बाद कोई ढंग की नौकरी करें.

मगर बेटे की संगीत में रुचि को देखते हुए उन्होंने उन्हें पूरा सहयोग दिया.

ऋषि सिंह

इमेज स्रोत,SETINDIA

इमेज कैप्शन,ऋषि सिंह

गुरुद्वारे और मंदिर में भजन गाते थे

ऋषि ने संगीत की कोई शिक्षा नहीं ली है पर बचपन से ही वो अपने घर के पास गुरुद्वारे और मंदिर में भजन गाया करते थे.

2019 में ऋषि ने इंडियन आइडल के 11वें सीज़न में भी भाग लिया था पर चौथे राउंड के बाद वो बाहर हो गए थे.

भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली ने हाल ही में उनकी गायकी की तारीफ़ भी की और वो उन्हें सोशल मीडिया इंस्टाग्राम पर फ़ॉलो भी करते हैं.

निर्देशक निर्माता राकेश रोशन ने ऋषि सिंह को रितिक रोशन की अगली फ़िल्म में गाना गाने का ऑफ़र भी दिया है.

मई 2022 में ऋषि सिंह ने अपना पहला सिंगल गाना ‘इल्तेज़ा मेरी’ रिलीज़ किया था. इस गाने को मेलोडियस रिकॉर्ड्स ने बनाया था.

ऋषि सिंह

इमेज स्रोत,SONYTVPR

इंडियन आइडल में ‘कबीर सिंह’ फ़िल्म का गाना पहला प्यार गाने के बाद उन्हें जजों ने स्टैंडिंग ओवेशन दिया था और गाने के लिए उन्हें गोल्डन माइक ( क्वालिफ़ाइंग राउंड की ज़रूरत नहीं होती ) भी दिया गया.

ऋषि सिंह ने 2019 में अयोध्या के राम कथा म्यूज़ियम में म्यूज़िक कॉन्सर्ट में परफ़ॉर्म भी किया था.