Monday 26/ 02/ 2024 

Dainik Live News24
3 करोड़ के लागत से भोजपुरी फिल्म आ रहा है अभिनेत्री नीलम पांडे और सिंगर नितेश सिंह यादव का जलवाऑल इंडिया चंद्रवंशी युवा एसोसिएशन ने किया प्रखंड का विस्तार:- प्रताप सक्सेना चंद्रवंशीराष्ट्र गौरव सम्मान- 2024 से विभूषित हुए साहित्यकार डॉ. अभिषेक कुमारअरवल जिला में महिला कार्यकर्ताओं को संगठित करना हमारा एकमात्र लक्ष्य: मुन्नी चंद्रवंशीबड़ी खबर कैमूर में भीषण सड़क हादसा 7 लोगों की मौत, पुलिस मामले की कर रही जांचतेलपा पुलिस के नाक के नीचे चल रही थी मिनी गन फैक्ट्री, स्थानीय पुलिस फेल, एसटीएफ को मिली सफलताजहानाबाद लोकसभा क्षेत्र में हो रहा है रेल सुविधाओं का विस्तार सड़क हादसे में एक व्यक्ति की मौतरामपुर चौकी इंचार्ज चकिया मुरारपुर से बबुरी थाना के आसपास एक्सीडेंट गाड़ी चालक को फिल्मी स्टाइल में 15 किलोमीटर दूरी पर दौड़ा कर पकड़ानेहरू युवा केंद्र द्वारा चलाया गया मतदाता जागरूकता अभियान
पुरस्कार

सामाग्री में कमी को लेकर सेविकाओं ने किया हंगामा

सामाग्री में कमी को लेकर सेविकाओं ने किया हंगामा

राम कुमार ब्यूरो प्रमुख समस्तीपुर

समस्तीपुर // जिला अंतर्गत विभूतिपुर प्रखंड मुख्यालय परिसर स्थित बाल विकास परियोजना कार्यालय परिसर में शनिवार को सामाग्री कम दिए जाने को लेकर सेविकाओं ने हंगामा कर दिया। साथ हीं विभाग द्वारा भेजी गई सूची के मुताबिक सामग्री उपलब्ध कराने की मांग तेज कर दी तो कार्यालय में उथल-पुथल मच गई। हालांकि, कार्यालय में मौजूद कार्यपालक सहायक हसीउल्लाह खान व अन्य ने तर्क देकर समझाते-बुझाते हुए मामले को शांत करवाया गया। मगर, सूची सार्वजनिक किए बिना गुणवत्ता विहीन और कम सामग्री दिए जाने का सवाल सेविकाओं द्वारा परिसर में सरेआम रहा। कार्रवाई की रडार में आने के भय से नाम नहीं छापने की शर्त पर सेविकाओं ने बताया कि उन्हें क्षतिग्रस्त पंजी दी जा रही थी। जिसकी संख्या भी कम है। बताया कि विभाग द्वारा सेविकाओं के लिए क्रय पंजी, सेविका/सहायिका उपस्थिति पंजी, टीएचआर पंजी, गोदभराई, अन्नप्राशन, निरीक्षण पंजी, अवकाश पंजी, चॉक, स्लेट की कम संख्या आदि को भी सार्वजनिक नहीं किया गया है। पूछे जाने पर सीडीपीओ प्रीति कुमारी ने बताया कि मीनी आंगनवाड़ी केन्द्र के लिए सामग्री की संख्या कम बताया जा रहा है। इसके अलावा सभी केन्द्रों के लिए सूची के मुताबिक सामाग्री उपलब्ध करवाई जाएगी। इधर, बिहार राज्य आंगनवाड़ी संघर्ष समिति की नेत्री विनीता कुमारी ने बताया कि सेविकाओं के लिए सरकार द्वारा आपूर्ती कराई जा रही सामाग्रियों की सूची सार्वजनिक नहीं किया जाना गोलमाल का प्रतीक है। अगर, सीडीपीओ द्वारा इस बात को गंभीरता से नहीं लिया जाता है तो संघ आंदोलन करने पर उतारु होगा।