Monday 26/ 02/ 2024 

Dainik Live News24
ऑल इंडिया चंद्रवंशी युवा एसोसिएशन ने किया प्रखंड का विस्तार:- प्रताप सक्सेना चंद्रवंशीराष्ट्र गौरव सम्मान- 2024 से विभूषित हुए साहित्यकार डॉ. अभिषेक कुमारअरवल जिला में महिला कार्यकर्ताओं को संगठित करना हमारा एकमात्र लक्ष्य: मुन्नी चंद्रवंशीबड़ी खबर कैमूर में भीषण सड़क हादसा 7 लोगों की मौत, पुलिस मामले की कर रही जांचतेलपा पुलिस के नाक के नीचे चल रही थी मिनी गन फैक्ट्री, स्थानीय पुलिस फेल, एसटीएफ को मिली सफलताजहानाबाद लोकसभा क्षेत्र में हो रहा है रेल सुविधाओं का विस्तार सड़क हादसे में एक व्यक्ति की मौतरामपुर चौकी इंचार्ज चकिया मुरारपुर से बबुरी थाना के आसपास एक्सीडेंट गाड़ी चालक को फिल्मी स्टाइल में 15 किलोमीटर दूरी पर दौड़ा कर पकड़ानेहरू युवा केंद्र द्वारा चलाया गया मतदाता जागरूकता अभियाननेहरू युवा केंद्र द्वारा दो दिवसीय प्रखंड स्तरीय खेलकूद का किया गया आयोजन 
टॉप न्यूज़बिहारराज्यरोहतास

नाबार्ड द्वारा समेकित कृषि प्रणाली को लेकर एक दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन

रोहतास दावथ संवाददाता चारोंधाम मिश्रा की रिपोर्ट 

दावथ (रोहतास )प्रखंड क्षेत्र के मिर्जापुर गांव में नाबार्ड द्वारा एक दिवसीय समेकित कृषि प्रणाली प्रशिक्षण सह माडल फार्म भ्रमण का आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन नाबार्ड के पटना क्षेत्रीय कार्यालय के असिस्टेंट मैनेजर सुमित कुमार, डीडीएम नाबार्ड सुनील कुमार, सीए एनएसएफ रविशंकर कुमार ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। सुमित कुमार ने बताया कि देश में बढ़ रही आबादी और घट रही भूमि से किसानों की आय कम होते जा रही है। सरकार किसानों की आय बढ़ाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

आए दिन विभिन्न तरह के योजनाएं चला कर किसानों के आय बढ़ाने व लागत कम करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। उसी कड़ी में राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक ( नाबार्ड) द्वारा समेकित कृषि प्रणाली की एक माडल तैयार किया है। जिसमें करीब एक एक्कड जमीन पर तालाब, बतख पालन, मुर्गा फार्म, गौ पालन, बकरी पालन, मधुमक्खी पालन,वर्मी कम्पोस्ट, बागवानी व कुछ भागों में विभिन्न तरह के खेती करना है। जिससे किसानों को सभी तरह से आय आते रहे। वहीं पशु पक्षियों के अवशेष से जैविक खाद भी बने। जिससे फसलों में जैविक खाद का प्रयोग किया जाए। ताकि मिट्टी की सेहत बना रहे और फसलों में केमिकल का प्रभाव न के बराबर रहें।

जिससे मनुष्य भी स्वस्थ्य रहेगा। वहीं डीडीएम नाबार्ड ने माडल फार्म बना रहे किसान सुनील कुमार के तालाब, पशुपालन,आम, अमरूद, केला, पपीता, नींबू, आंवला, महुगनी, सागवान, कटहल समेत अन्य पेड़ पौधे, फसल में शिमला मिर्च, स्ट्राबेरी, आलु, चना, बिंस, गोभी, मिर्च, टमाटर, लाल मुली, सरसों , मटर वर्मी कम्पोस्ट बेड आदि का भ्रमण कराया व सभी किसानों को समेकित कृषि प्रणाली अपनाने का सुझाव दिया। उन्होंने बताया कि इस माडल फार्म पर अभी मुर्गा फार्म, बतख फार्म बनाया जाएगा तब इस माडल फार्म का कार्य पूरा हो जाएगा।

तब अन्य किसानों को यहां भ्रमण कराया जाएगा व प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस अवसर पर बिटू कुमार एनएसएफ संझौली, अशोक कुमार एफपीओ कोचस समेत पचास किसानों को प्रशिक्षण व प्ररिभ्रमण कराया गया। मौके पर दर्जनों ग्रामीण किसान भी मौजूद थे।

Check Also
Close