Sunday 16/ 06/ 2024 

Dainik Live News24
जमुई: हीट बेब ने ले ली युवा इंजीनियर विकास की जानदावथ थाना परिसर में हुई शांति समिति की बैठकबकरीद को लेकर हुई थाना में शांति समिति की बैठक आयोजितभाजपा कार्यकर्ता का समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन, कई मुद्दों पर हुआ विचार विमर्श….नौ दिवसीय श्रीमद देवी भागवत कथा ज्ञान महायज्ञ का शुभारंभअल्लाह के प्रति बन्दे का सम्पूर्ण समर्पण है ईद-उल-अज़हाहॉकी का पहला सेमीफाइनल मैच काफी रहा रोमांचक…उत्कृष्ट कार्य करने पर स्वास्थ्य मंत्री ने डॉ रवि रंजन को किया सम्मानितऑपरेशन मुस्कान के तहत जमुई एस पी ने लौटाई कई लोगों की मुस्कान, बिहार पुलिस की अनूठी पहल व उपलब्धिगंगा दशहरा पर “जोहार स्वर्ण रेखा, नमामि स्वर्णरेखा” के तहत स्वर्णरेखा नदी के लिए दौड़ और गंगा आरती का आयोजन
खेलदेशबिहारराज्यरोहतास

एक दिवसीय महिला फुटबॉल मैच में पटना ने भभुआ को हरा कर जीता ट्रॉफी

खेल से बढ़ती है आपसी प्रेम: अनिल कुमार

रोहतास दावथ संवाददाता चारोंधाम मिश्रा की रिपोर्ट

दावथ/सूर्यपुरा (रोहतास) प्रखंड मुख्यालय स्थित हाई स्कूल के खेल स्टेडियम में गणतंत्र दिवस के अवसर पर महिला फुटबॉल मैच भभुआ बनाम पटना के बीच हुआ. जिसमें पटना की टीम ने पेनाल्टी शूटआउट में 3-1से भभुआ को हराकर ट्रॉफी जीत लिया।

 न्यू स्पोर्टिंग क्लब के बैनर तले आयोजित मैच 65 मिनट का खेला गया।पहले हाफ में दोंनो ही टीमों ने अपनी बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते हुए खेल में बराबरी बनायी रखी. वहीं खेल के पहले हाफ में 35 वे मिनट में पटना टीम की सलोनी कुमारी ने पहला गोल दाग कर अपनी टीम को 1 जीरो से बढ़त दिला दी।वहीं दूसरे हाफ के अंतिम क्षणों में भभुआ की मनीषा निषाद ने रोमांचक मुकाबले में पटना की टीम में एक गोल कर खेल बराबरी पर ला दी.इसी तरह खेल समाप्ति के बाद कमिटी के निर्णय पर पेनाल्टी शूट आउट में पटना ने भभुआ को 3 -1 से हराकर ट्राफी जीत लिया.खेल के अंत में बेस्ट ऑफ ट्वेंटी टू प्लेयर भभुआ टीम के गुड़िया कुमारी को चुना गया .जबकि इसी टीम के मनीषा निषाद  को मैन ऑफ द मैच चुना गया।आज की खेल में दोंनो टीमों की ओर से गोल करने वाली दोंनो प्लेयर को 51सौ-51 सौ का पुरस्कार दिया गया।

मैच का उदघाटन बसपा के बिहार प्रदेश प्रभारी अनिल कुमार व थानाध्यक्ष प्रिया कुमारी ने कबूतर उड़ा कर किया. वही अतिथियों के द्वारा सभी खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त करने के बाद दर्शकों को संबोधित करते हुए कहा कि देश के नामी खिलाड़ी बनने के लिए लड़कियों में भी प्रतिभा की कमी नहीं है. सिर्फ उन्हें सही दिशा निर्देश की जरूरत है। आगे कहा कि यह बहुत ही खुशी की बात है कि आज भी गांव में फुटबॉल खिलाड़ी के प्रति लोगों में जागरूकता है।आज फुटबॉल मैच में महिला खिलाड़ियों ने बहुत ही सुंदर प्रस्तुति की।

Check Also
Close