Saturday 15/ 06/ 2024 

Dainik Live News24
गंगा दशहरा पर “जोहार स्वर्ण रेखा, नमामि स्वर्णरेखा” के तहत स्वर्णरेखा नदी के लिए दौड़ और गंगा आरती का आयोजनडा विभूति बने जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के बिहार प्रदेश सह संयोजकलहठान राजबाहा से निकलने वाले करहा का माधोपुर व नकटौली तक हुआ विस्तारतीन दिवसीय गायत्री महायज्ञ के लिए निकली गई जलभरी सह शोभायात्राडॉ विभूति बने जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के प्रदेश संयोजक (बिहार)मानव सेवा संघ ने किया गरीबों के बीच पका हुआ भोजन वितरण दोस्त ने ही ले ली दोस्त की जानजयपुर में आयुर्वेदिक चिकित्सा का महाकुंभ, नारायण औषधि की पहली सालगिरह पर जुटे आयुर्वेद के सितारेफूड ट्रेक के उप प्रबंधक सुरेश सिंह को श्रद्धांजलि कार्यक्रम में मानव सेवा संघ में हुआ भोज का उपयोग भालुओं की हमले से महिला जख्मी, ग्रामीणों की मदद से बाल बाल बची महिला 
टॉप न्यूज़देशराज्य

रेवाड़ी में 9750 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन, समर्पण और शिलान्यास करेंगे पीएम मोदी

  • सौगातों की बहार ला रही है मोदी सरकार
  • प्रधानमंत्री गुरुग्राम मेट्रो रेल परियोजना की आधारशिला रखेंगे
  • प्रधानमंत्री एम्स , की भी सौगात रेवाड़ी में देंगे। रखेंगे आधारशिला ।
  • प्रधानमंत्री कुरूक्षेत्र के ज्योतिसर में नवनिर्मित ‘अनुभव केंद्र’ का उद्घाटन करेंगे।

बिहार राज्य संवाददाता बीरेंद्र कुमार की रिपोर्ट 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी 16 फरवरी, 2024 को रेवाड़ी, हरियाणा का दौरा करेंगे। दोपहर लगभग 1 बजकर 15 मिनट पर, प्रधानमंत्री शहरी परिवहन, स्वास्थ्य, रेल और पर्यटन क्षेत्र से संबंधित 9750 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे और आधारशिला रखेंगे।

प्रधानमंत्री करीब 5450 करोड़ रुपये की लागत से विकसित होने वाली गुरुग्राम मेट्रो रेल परियोजना की आधारशिला रखेंगे। 28.5 किलोमीटर की कुल लंबाई वाली इस परियोजना में मिलेनियम सिटी सेंटर को उद्योग विहार चरण-5 से जोड़ा जाएगा और साइबर सिटी के पास मौलसारी एवेन्यू स्टेशन पर रैपिड मेट्रो रेल गुरुग्राम के मौजूदा मेट्रो नेटवर्क में इसे मिला दिया जाएगा। द्वारका एक्सप्रेसवे पर भी इसका विस्तार होगा। यह परियोजना नागरिकों को विश्व स्तरीय पर्यावरण-अनुकूल व्यापक तीव्र शहरी परिवहन प्रणालियां प्रदान करने के प्रधानमंत्री के विज़न को साकार करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

देश भर में सार्वजनिक स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के प्रधानमंत्री के विज़न के अनुरूप, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), रेवाड़ी, हरियाणा की आधारशिला रखी जा रही है। इस पर लगभग 1650 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इसे रेवाड़ी के गांव माजरा मुस्तिल भालखी में 203 एकड़ भूमि पर विकसित किया जाएगा। इसमें 720 बिस्तरों वाला अस्पताल परिसर, 100 सीटों वाला मेडिकल कॉलेज, 60 सीटों वाला नर्सिंग कॉलेज, 30 बिस्तरों वाला आयुष ब्लॉक, संकाय तथा कर्मचारियों के लिए आवासीय सुविधा, यूजी तथा पीजी छात्रों के लिए छात्रावास, रैन बसेरा, गेस्ट हाउस, सभागार आदि सहित कई सुविधाएं होंगी। प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (पीएमएसएसवाई) के तहत स्थापित किया जा रहा है। एम्स रेवाड़ी हरियाणा के लोगों को व्यापक और गुणवत्तापूर्ण तथा समग्र तृतीयक देखभाल स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करेगा। वहां बनने वाली सुविधाओं में कार्डियोलॉजी, गैस्ट्रो-एंटरोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, न्यूरोलॉजी, न्यूरोसर्जरी, मेडिकल ऑन्कोलॉजी, सर्जिकल ऑन्कोलॉजी, एंडोक्रिनोलॉजी, बर्न्स और प्लास्टिक सर्जरी सहित 18 स्पेशलिटी और 17 सुपर स्पेशलिटी में रोगी देखभाल सेवाएं शामिल हैं। इस संस्थान में गहन देखभाल इकाई, आपातकालीन और ट्रॉमा इकाई, सोलह मॉड्यूलर ऑपरेशन थिएटर, नैदानिक प्रयोगशालाएं, ब्लड बैंक, फार्मेसी आदि की सुविधाएं भी होंगी। हरियाणा में एम्स की स्थापना हरियाणा के लोगों के लिए व्यापक, गुणवत्तापूर्ण और समग्र तृतीयक देखभाल स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने में एक बड़ी उपलब्धि है।

प्रधानमंत्री कुरुक्षेत्र के ज्योतिसर में नवनिर्मित अनुभव केंद्र का उद्घाटन करेंगे। इस अनुभवात्मक संग्रहालय को लगभग 240 करोड़ की लागत से बनाया गया है। यह संग्रहालय 17 एकड़ में फैला है, जिसमें 100,000 वर्ग फुट से अधिक इनडोर जगह है। यह महाभारत की महाकाव्य कथा और गीता की शिक्षाओं को जीवंत करेगा। यह संग्रहालय आगंतुकों को जबर्दस्‍त अनुभव कराने के लिए संवर्धित वास्तविकता (एआर), 3डी लेजर और प्रोजेक्शन मैपिंग सहित अत्याधुनिक तकनीक का भी लाभ उठाता है। कुरुक्षेत्र में ज्योतिसर वह पवित्र स्थल है जहां भगवान कृष्ण ने अर्जुन को भगवद गीता का शाश्वत ज्ञान प्रदान किया था।

प्रधानमंत्री कई रेलवे परियोजनाओं का शिलान्यास और राष्ट्र को समर्पित भी करेंगे। जिन रेल परियोजनाओं की आधारशिला रखी जाएगी उनमें रेवाड़ी-काठुवास रेल लाइन (27.73 किलोमीटर) का दोहरीकरण; काठूवास-नारनौल रेल लाइन (24.12 किमी) का दोहरीकरण; भिवानी-डोभ भाली रेल लाइन (42.30 किमी) का दोहरीकरण; और मानहेरू-बवानी खेड़ा रेल लाइन (31.50 किमी) का दोहरीकरण शामिल है। इन रेलवे लाइनों के दोहरीकरण से क्षेत्र में रेल बुनियादी ढांचे में वृद्धि होगी और यात्री रेल तथा मालगाड़ियों दोनों को समय पर चलाने में मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री रोहतक-महम-हांसी रेल लाइन (68 किलोमीटर) राष्ट्र को समर्पित करेंगे, जिससे रोहतक और हिसार के बीच यात्रा का समय कम हो जाएगा। प्रधानमंत्री रोहतक-महम-हांसी खंड में ट्रेन सेवा को भी हरी झंडी दिखाएंगे, जिससे रोहतक और हिसार क्षेत्र में रेल कनेक्टिविटी में सुधार होगा और रेल यात्रियों को लाभ होगा।

Check Also
Close