Sunday 16/ 06/ 2024 

Dainik Live News24
जमुई: हीट बेब ने ले ली युवा इंजीनियर विकास की जानदावथ थाना परिसर में हुई शांति समिति की बैठकबकरीद को लेकर हुई थाना में शांति समिति की बैठक आयोजितभाजपा कार्यकर्ता का समीक्षा बैठक का हुआ आयोजन, कई मुद्दों पर हुआ विचार विमर्श….नौ दिवसीय श्रीमद देवी भागवत कथा ज्ञान महायज्ञ का शुभारंभअल्लाह के प्रति बन्दे का सम्पूर्ण समर्पण है ईद-उल-अज़हाहॉकी का पहला सेमीफाइनल मैच काफी रहा रोमांचक…उत्कृष्ट कार्य करने पर स्वास्थ्य मंत्री ने डॉ रवि रंजन को किया सम्मानितऑपरेशन मुस्कान के तहत जमुई एस पी ने लौटाई कई लोगों की मुस्कान, बिहार पुलिस की अनूठी पहल व उपलब्धिगंगा दशहरा पर “जोहार स्वर्ण रेखा, नमामि स्वर्णरेखा” के तहत स्वर्णरेखा नदी के लिए दौड़ और गंगा आरती का आयोजन
उत्‍तर प्रदेशटॉप न्यूज़देशभाषाराज्य

बूथों पर कार्मिकों के लिए नाश्ता और भोजन बनाएंगे मिड-डे-मील वाले रसोइया

परिषदीय विद्यालयों में नियुक्त रसोइया चुनाव कार्मिकों के लिए नाश्ता व भोजन तैयार करेंगी। जो भी खाने की इच्छा होगी, बस उसे रसोइया के सामने जाहिर करनी होगी।

चदौली में लोकसभा चुनाव 2024 की तैयारी

चुनाव आयोग के निर्देश पर तैयारी

निष्पक्ष चुनाव के लिए पोलिंग पार्टियों को निर्देश

खाने व नाश्ते की जिम्मेदारी सरकारी स्कूल के रसोइयों के जिम्मे

चंदौली जिले के बूथों पर सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने को आयोग गंभीर है। मतदान कार्मिकों, अधिकारी प्रत्याशी या उनके समर्थक का चाय, नाश्ता व भोजन का स्वाद न चखें। आयोग ने इसके लिए बूथों पर ही इनके प्रबंधन कराने के निर्देश दिए हैं। निर्वाचन तिथि से एक दिन पूर्व पोलिंग पार्टी के यहां पहुंच जाएगी। अधिकांश बूथ परिषदीय स्कूलों में होने से रसोइया उनके लिए नाश्ता व भोजन बनाएंगी।

आपको बता दें कि मतदान कार्मिक व अधिकारियों को शुल्क या खाद्य सामग्री मुहैया करानी होगी। जनपद में एक जून को होने वाले लोस चुनाव के लिए 918 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इन पर 1539 पोलिंग बूथों के लिए पार्टियां मतदान के एक दिन पहले 31 मई को बूथों के लिए रवाना होंगी। पार्टियां सभी जगह देर शाम में ही पहुंच जाएंगी। अगले दिन सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक मतदान होगा।

बताते चलें कि मतदान के बाद देर रात तक पोलिंग पार्टियां वापस लौट सकेंगी। ऐसे में पोलिंग पार्टियों में शामिल कर्मचारियों को रवानगी वाले और मतदान वाले दिन भोजन की फिक्र रहती है। कई कर्मचारी घर से व्यवस्था करके ले जाते हैं तो कुछ को खाली पेट ही रहना पड़ता है। कुछ के लिए स्थानीय जनप्रतिनिधि प्रबंध करते हैं तो विवाद या शिकायत की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। इसके दृष्टिगत आयोग ने यह कदम उठाया है। इस बार के मतदान कार्मिकों को भोजन की चिंता नहीं होगी।

परिषदीय विद्यालयों में नियुक्त रसोइया चुनाव कार्मिकों के लिए नाश्ता व भोजन तैयार करेंगी। जो भी खाने की इच्छा होगी, बस उसे रसोइया के सामने जाहिर करनी होगी। इसके अलावा भोजन सामग्री तेल, आटा, चावल, दाल, सब्जी, दूध आदि भी खरीद कर देना होगा। निर्वाचन विभाग के मुताबिक, मतदान कार्मिकों पर 200 रुपये भोजन के लिए खर्च किया जाना है। लोस निर्वाचन कराने के लिए नौ हजार से अधिक कार्मिक लगाए गए हैं। इनको प्रशिक्षण दिया जाएगा।

इस संबंध में चंदौली जिले के उप जिला निर्वाचन अधिकारी अभय पांडेय ने बताया कि मतदान कार्मिकों के लिए भोजन कराने की व्यवस्था पोलिंग स्टेशनों पर कराई जाएगी। रसोइया इसके लिए मौजूद रहेंगी। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को इसकी जिम्मेदारी दी गई है।

चन्दौली ब्यूरो चीफ – नितेश सिंह यादव की रिपोर्ट
Check Also
Close